Wheezal Homeopathy medicines in Hindi, व्हिजल होमियोपैथी दवाई सूची

 

व्हिजल सुपर स्पेशियाल्टी होमियोपैथी टैबलेट्स

मुँहासे साफ करने वाली टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट त्वचा के पोषण में मदद करती हैं l औषधि का प्रयोग: मुँहासे कम करने में मदद करती हैं।, फुंसियां, सफेद दाने और काले दानों को पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ने के लिए।, त्वचा का लाल पड़ने, रुखा होने, नीरस होने से बचाने में।, चकत्ते और धूप से झुलसने के निशान मिटाने में।, त्वचा की कालिमा में। घटक: बेरबेरीज एक्यूफोलियम ३एक्स, केलियम ब्रोमेटम ३एक्स, जुग्लान्स रेजिया ३एक्स, जग.आर. ३एक्स, ओग.जम्बोस. ३एक्स. सेवन मात्रा: १ टेबलेट दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार l
अर्स सल्फ फ्लेवस टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट लुकोडर्मा यानि चर्म रोग। औषधि का प्रयोग: लुकोडर्मा या विटिलिगो एक चर्म रोग है जिसकी पहचान पिगमेंट की कमी के कारण बने सफेद धब्बों और निशानों से होती है।, विटिलिगो दुःखदायी रोग है, इससे त्वचा का असली रंग धीरे-धीरे नष्ट होने लगता है। घटक: अर्स सल्फ फ्लेवस ३एक्स. सेवन मात्रा: १-२ गोलियाँ दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
डायसेंटो टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट सभी प्रकार के डायरिया और पेचिश। औषधि का प्रयोग: पेचिश और दस्त के सभी चरण।, पीलिया में डायरिया।, मलत्याग की निष्प्रभावी इच्छा होना।, अमोबियासिस और गुदा में दर्द। घटक: कोलसिकम ए. क्यू, एलोइज क्यू, मर्स. कोर. ६एक्स., नक्स वोम. क्यू, कोलोसाईनाथीस क्यू. सेवन मात्रा: ४ गोलियाँ दिन में तीन बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
फेमिप्लान टेबलेट         प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट मासिक धर्म को नियमित करना। औषधि का प्रयोग: एमेनोरिया, डिस्मेनोरिया, अनियमित मासिक-धर्म चक्र। घटक: पल्साटिला ३एक्स, नेट. म्यूर. ३एक्स. सेवन मात्रा: १ गोली दिन के हर चौथे घंटे में या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
फाइव फॉस टेबलेट        प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट दुर्बलता और नसों की कमजोरी। औषधि का प्रयोग: फाइव फॉस  ऊतकों के निर्माण को बढ़ाता है और शरीर के लिए आवश्यक पोषण प्रदान करता है l, थकान, खून की कमी, दुर्बलता, जीवनी शक्ति की कमी में मदद करती है और शरीर के सभी ऊतकों का पोषण करता है।             घटक: कैल्क. फॉस. ३एक्स. कैली. फॉस. ३एक्स, मैग. फॉस. ३एक्स, नेट फॉस. ३एक्स. फेरम फॉस. ३एक्स.
फेबरल टेबलेट                       प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट हर प्रकार के बुखार।                औषधि का प्रयोग: हर तरह का पायरेक्सिय, मलेरिया, पसीने वाली अचेतमा, टाइफाइड, ठंड के साथ इन्फलुएन्जा, पीड़ा और शरीर में दर्द। घटक: ओसिमम संक. क्यू, चिनिनम अर्स. ३एक्स, यूपाटोरियम पर्फ. अर्सेनिकम आल्ब,६एक्स, रस टॉक्स ६एक्स, ब्रोनिया आल्ब क्यू, फेरम फॉस. ३एक्स, बपतिसिया क्यू, अकोनितम नेप. ६एक्स. सेवन मात्रा: २ गोलियाँ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
गैस्ट्रोलेक्स टेबलेट           प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट गैसट्रिक रोग और अपच। औषधि का प्रयोग: खाने के बाद अम्लीय छाया से राहत में मदद करता है।, जलन और अपच को कम करता है।, पाचन की परेशानी को कम करने में मदद करता है।, पोषण नली का संचालन सुचारु बनाता है। घटक: चाइना क्यू, कारबो वेज. ३एक्स, कोलोसिन्थिस क्यू, लाइकोपोडियम क्यू, कैल्क. कार्ब. ३एक्स, कैली. म्यूर. ३एक्स, मैग. फॉस. ३एक्स. सेवन मात्रा: वयस्क: २ गोलियाँ, १-३ घंटे में एक बार, बीमारी की गंभीरता के अनुसार। बच्चे: १ गोली, १-३ घंटे में एक बार, बीमारी की गंभीरता के अनुसार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
ग्लैन्डोलेक्स टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट  ग्रंथियों के हर प्रकार के रोग और गले का शोथ (टॉन्सिल प्रदाह)। औषधि का प्रयोग: ग्रंथियों के रोगों के लिए।, गले का शोथ (टॉसिलिटिस), ग्रसनीशोर्थ।, कैटरल लैक्यूनर।, गले में खराश घटक: कैल्क. आयोडम ३एक्स, मेर्क. आयोड. ६एक्स, बैरिटा आयोड. ३एक्स, अर्स. आयोड. ६एक्स, बैराइटा कार्ब. ३एक्स, बेला. ३एक्स. सेवन मात्रा: २ गोलियाँ हर तीसरे घंटे में या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
ल्यूकोराइन टेबलेट         प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट कमजोरी और ल्यूकोरिया। औषधि का प्रयोग: ल्यूकोरिया की समस्याओं में मददगार।, भूख में कमी।, शारीरिक कमजोरी।, हार्मोनों के असंतुलन से संबंधित समस्याओं में लाभकारी। घटक: एल्यूमिना ३एक्स, सेपिया. ३एक्स, मैग. म्यूर. ३एक्स, कोनियम मैक. ६एक्स, कैल्क. कार्ब ३एक्स. सेवन मात्रा: १-२ गोलियाँ दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
लिवकॉल टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट पीलिया और यकृत के रोग। औषधि का प्रयोग: यकृत विकारों को कम करता है।, हेपेटाइटिस, पीलिया और डिस्पेप्सिया यानि अपच।, शराब और नशीले पदार्थों की विषाक्तता से लीवर की रक्षा करता है।, सुस्त लीवर को सक्रिय बनाता है और भूख बढ़ाता है। घटक: कारडूस मरियानस क्यू, चेलिडोनियम माजस क्यू, चाइना ऑफ. क्यू, कालमेघ क्यू, हाईड्रासटिस कान. क्यू. पोडोफीलियम क्यू, इपेकाक. क्यू कारिका पपाया क्यू, माईरिका सी. क्यू, नक्स वोमिका. क्यू. सेवन मात्रा: बच्चे : १ चम्मच दिन में २ बार।, वयस्क : २ चम्मच दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
फायटोलैका बेरी टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट  फायटोलैका बेरी टेबलेट। औषधि का प्रयोग: मोटापे पर नियंत्रण का एक उत्तम उपाय।, प्रसव के बाद वजन बढ़ने से रोकने में लाभकारी। घटक: फायटोलैका बेरी क्यू. सेवन मात्रा: १-२ टेबलेट दिन में ३ बार भोजन से पहले या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
रिलेक्सो टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट मानसिक आराम। औषधि का प्रयोग: बेहोशी, निद्राहीनता, सोते समय सांस रुकना, हवाई यात्रा की थकान, रात में काम करने की वजह से निद्रा संबंधी गड़बड़ी, घबराहट, बुरे सपने आना और नींद में चलना घटक: पैसीफ्लोरा ३एक्स, अल्फाल्फा. ३एक्स, स्ट्रामोनियम. ३एक्स, हाइओसाइयामस. ३एक्स, नक्स वोम. ३एक्स, अवेना सातिवा. ३एक्स, क्लेमेटिस ३एक्स.  सेवन मात्रा: वयस्क: १ टेबलेट, दिन में ४ बार l, बच्चे : १ टेबलेट, दिन में २ बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
रुमोटेक्स टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट  पुराना गठिया रोग और दर्द। औषधि का प्रयोग: जोड़ों में दर्द, मोच।, गठिया, गाउट।, अस्थिशोथ (रूमेटिज्म) l, पेरीशूल, मोच। घटक: एसिड. बेन्ज क्यू, अर्निका एम क्यू, ब्रोनिया आल्बा क्यू, चमोमिला क्यू, डलकामारा क्यू, कैली लोड. रोडोडेनड्रोन क्यू, रस टॉक्स. रुटा जी. क्यू. सेवन मात्रा: ४ टेबलेट्स, दिन में ४ बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
सुपर अल्फाल्फा टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट  सामान्य टॉनिक और भूखवर्द्धक । औषधि का प्रयोग: सामान्य दुर्बलता, स्वास्थ्य लाभ के दौरान और बाद में।, नसों की दुर्बलता, चिंता, घबराहट और अनिद्रा।, भूख में कमी।, विटामिन, खनिज और पोषक तत्वों की कमी को पूरा करके शारीरिक और मानसिक पुष्टता को बढ़ाता है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, चाइना ऑफ क्यू, हाइड्रासटिस कान. अवेना सातिवा क्यू, अश्वगन्धा क्यू, दामियाना क्यू, नक्स वोम. २एक्स, एसिड. फॉस. २एक्स, सिन्नामोनियम क्यू, कैलि अर्स. ६एक्स. सेवन मात्रा: ३ गोलियाँ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
विटोविटा फोर्ट टेबलेट  प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट
शारीरिक एवं मानसिक ताकत (शक्ति)। औषधि का प्रयोग: शारीरिक एवं मानसिक ताकत (शक्ति) की वापसी में मददगार और स्वास्थ्य-लाभ में अत्यधिक उपयोगी।, भूख बढ़ाती है और मांसपेशियों में शक्ति और वजन में बढ़ोतरी करता है।, रात में अनैच्छिक उत्सर्जन से राहत प्रदान करता है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, अवेना सातिवा क्यू, चाइना क्यू, हाइड्रासटिस कान. योहिमबिनम ३एक्स, मोसचस. ३एक्स, लेसिथिन ३एक्स, लूपुलिन ३एक्स. सेवन मात्रा: रोज १ गोली भोजन के बाद या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।
व्हीजल मिक्सचर कफ टेबलेट प्रस्तुति: २५ ग्रा. और २५० टेबलेट खड़खड़ाहट और हर प्रकार की खाँसी औषधि का प्रयोग: छाती में खड़खड़ाहट की आवाज वाली खांसी को कम करने में मदद।, खाँसी के प्रबल आवेग को कम करता है।, कफ पर नियंत्रण करता है।, निमोनिया, फेकड़े का क्षय रोग, दमा।, लैरिंगिटिस, गले की सूजन और दमघोंटू खांसी के लिए उपयोगी।, खड़खड़ाहट वाली खांसी और खुले श्वसन अंग। घटक: ब्रोनिया आल्ब. आईपेकाक क्यू, साम्बुकस एन.क्यू, सेनेगा क्यू, जस्टिसिया क्यू, एस्पिडोसपर्मा क्यू, लोडियम ३एक्स, हाइड्रासटिस कान. क्यू. सेवन मात्रा: ४ गोलियाँ, दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह के अनुसार।

व्हिजलहोमियोपैथी ऑइंटमेंट रेंज

पायले ऑइंटमेंट (ढेर के लिए) प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: अर्श, बवासीर में उपयोगी। घटक: एलोइस क्यू २%v/w, एसिड कार्ब क्यू २%v/w, हैमामेलिस क्यू २%v/w, अल्कोहोलिक कॉण्ट्रा. ४.६%v/w. उपयोग: चिकित्सक की सलाह से।
एस्कुलुस ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: बवासीर में होने वाली खुजली और जलन के लिए। घटक: एस्कुलुस क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ३.६% v/w.
अलोइस ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: पीड़ायुक्त बवासीर में उपयोगी। घटक: अलोइस क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ५.४% v/w.
अर्निका ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: चोट एवं फोडों के लिए। घटक: अर्निका मोन्टाना क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ३.६% v/w.
बेलाडोना ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: स्नायु-शूल के लिए। घटक: बेलाडोना क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. २.६% v/w.
बर्बेरिस एक्विफोलियम प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: मुहाँसे त्वचा का शोथ एवं खुष्क त्वचा में उपयोगी। घटक: बर्बेरिस एक्विफोलियम क्यू १०% w/w, क्रीम बेस q.s.
कैलेंडुला ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ ग्राम लक्षण: घाव एवं अल्सर के लिए एक रोगाणुरोधक दवा। घटक: कैलेंडुला क्यू ६% v/w, अल्कोहोलिक कॉण्ट्रा. २.५% v/w.
कैन्थरिस ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: जले के लिए उपयोगी। घटक: कैन्थरिस क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ५.४% v/w.
चार्यसारोबिनम ऑइंटमेंट  प्रस्तुति: २५ लक्षण: खाज के लिए उपयोगी। घटक: चार्यसारोबिनम २X, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ५% w/w.
एचिनासिया ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: कीड़ों के काटने पर उपयोगी। घटक: एचिनासिया क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ४.७% v/w.
ग्राफिट्स ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: एक्जिमा व खुजली के लिए उपयोगी। घटक: ग्राफिट्स ३X, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ६% w/w.
हैमामेलिस ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: अल्सर एवं ठंड के कारण, उंगलियों की सूजन एवं दरार पड़ने में उपयोगी। घटक: हैमामेलिस क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ३.६% v/w.
लिडम ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: तेज नुकीली वस्तु से बने जख्म में उपयोगी। घटक: लिडम क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ४.७% v/w.
पेट्रोलियम ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: त्वचा का खुष्क होना एवं दरारें पडना, खुष्क एक्जिमा, बेड़ सोर तथा सोरियासिस में उपयोगी। घटक: पेट्रोलियम क्यू १०% w/w, क्रीम बेस q.s.
रस टॉक्स ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: जोडों और मांसपेशियों, के दर्द में लाभदायक। घटक: रस टॉक्स क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ४.६% v/w.
रुटा ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: जोड़ों के दर्द में उपयोगी। घटक: रुटा क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ४% v/w.
स्कूकूम-चूक ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: त्वचा के लिए। घटक: स्कूकूम ३X, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ६% w/w.
सल्फर ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५  लक्षण: खुजली व त्वचा के रोगो के लिये उपयोगी। घटक: सल्फर क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ५.४% v/w.
थूजा ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५  लक्षण: मस्सों के लिये उपयोगी। घटक: थूजा क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ५% v/w.
यूर्टिका यूरेन्स ऑइंटमेंट प्रस्तुति: २५ लक्षण: त्वचा के जलने व हर्पीज में उपयोगी। घटक: यूर्टिका यूरेन्स क्यू ६% v/w, अल्कोहल कॉण्ट्रा. ३% v/w.

फ़ारुक़ जे मास्टर न्यू रेंज आफ होमियोपैथी स्पेशिलिटी टेबलेट्स

अमीनॉल टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: अमीनोरिया, गर्भाशय हरितरोग यानि क्लोरोसिस में मददगार, डिस्मेनोरिया घटक: कीमिसिफुगा रेसिमोसा ३०सी, गोसाईपियम एच. क्यू, मैग्निशियम फॉस्फोरिकम ३एक्स, पुल्सटिला एन. ३०सी, सिनेसियो ऑरियस क्यू, सेपिया ६एक्स. सेवन मात्रा: २ से ३ टेबलेट दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
कैल्सी-एच टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: ऑस्टियोपोरोसिस, हड्डियों में छिद्र होना, ऑस्टियोमैलेसिया यानि अस्थिमृदुता, रजोनिवृत्ति अवधि से पहले और बाद में जोड़ों में दर्द। घटक: अर्निका मोन्टाना क्यू, कैल्केरिया फ्लोरिका ३एक्स, कैल्केरिया फॉस्फोरिका ३एक्स, हाइपेरिकम परफोरेटम २००, रुटा ग्रेवियोलिन्स २००, सिम्फेटम ओफिसिनाले २००. सेवन मात्रा: २ से दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
हाइपरप्लेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: उच्च रक्तचाप के प्रबंधन में मदद, उच्च रक्तचाप से पैदा सिरदर्द, तंत्रिका उत्तेजना, अवसाद, अनिद्रा। घटक: अकोनिटम नेपैलस ६एक्स, बार्यटा म्युरिएटिका ३एक्स, इल सेरम ६एक्स, ग्लोनोइनम ३०, राउवोल्फिया क्यू, रस टॉक्सी कोडेंड्रम ३०, विस्कम एल्बम ३०. सेवन मात्रा: २ टेबलेट दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
सैकरॉल टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: खून में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने और उसके प्रबंधन में मददगार, अत्यधिक प्यास, भूख या पेशाब वाला मदुमेह, हाथ, पैर में जलन और पिंडली की मांसपेशियों में दर्द। घटक: जिमनेमा सिल. ३०, लेक. वेसिनम डिफ्लोरेटम ३०, फ्लोरिजिनम ३०, थायरोडिनम ३०, युरेनियम नाइट्रिकम ३०. सेवन मात्रा: २ टेबलेट खाना खाने से आधे घंटे पहले दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
स्नीजो-कोर्ज टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: छींके आना, नाक बहना, नाक में सर्दी और फ्लू। घटक: एलियम सेपा ६, अम्ब्रोसिया अर्टेमीसेफोलिया ६, आर्सेनिकम लोडेटम ६, ब्रोमियम ६, युफारेसिया ओफिसिनालिस ६, लायकोपोडियम क्लावेटम ६, नैट्रम म्युरिएटिकम ६, सबाडिला ६. सेवन मात्रा: २ टेबलेट दिन में ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
फ्लुगो टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: विषाणुजनक संक्रमण, तेज बुखार, सिर दर्द, बेचैनी, मांसपेशियों की कमजोरी से दर्द, गले में खराश और जलनकारक खाँसी। घटक: आर्सेनिकम एल्बम ६, बेप्टेसिया टिंक्टोरिया २००, ब्रायोनिया अल्बा ३०, युपेटोरियम परफोलिएटम क्यू, लायकोपोडियम क्लावेटम ३०, रस टॉक्सी कोडेंड्रम ३०. सेवन मात्रा: ४ टेबलेट दिन में ४ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
एलेरेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: एलर्जी और नाक सूजने में, छींक आने, खांसी, नाक बहने पर। घटक: अम्ब्रोसिया अर्टेमीसेफोलिया ३एक्स, एपिस मैलिफिका ६एक्स, आर्सेनिकम लोडेटम ३एक्स, ब्रोमियम ३एक्स, क्लोरेलम ३एक्स, लिनम यूसीटेसिमम ३एक्स, सेपोनेरिया ओफिसिनालिस ३एक्स, सुसिनिकम एसिडम ३एक्स, टोरुला सेरिविसेई ३एक्स. सेवन मात्रा: बच्चे: १ टेबलेट दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।  वयस्क: १ टेबलेट दिन में ४ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
डर्मी-एक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: पित्ती, पित्ती दरारें, फुंसियां, इरिसिपेविसर्प, खाज, खुजली, त्वचा में रूखापन और फटना, खुजली यानि एक्जिमा सुखी और गीली दोनों तरह की। घटक: एनाकारडियम ओरिन्टेल ३०, एंटीमोनिम क्रूडम ३०, बर्बेरिस एक्यूफोलियम ३०, बर्बेरिस व्लगरिस ३०, कैल्केरिया सल्फ्युरिका ३०, केरिसेरोबिनम ३०, इम्बेलिया राइब्स ३०, ग्राफिटिस ३०, इच्थायोलम ३०, पाइपर मैंथिंसटिकम, सेना ३० थाइरोइडिनम। सेवन मात्रा: सूखा दाद: १ टेबलेट दिन में २ बार। गीला दाद: १ टेबलेट दिन में १ बार। शिशुओं में खुजली हेतु: १ टेबलेट पानी में घोलकर लगाएं। नेपी के कारण रेशे व खुजली: प्रतिदिन १ टेबलेट या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
हेयरेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: असरः सिर की त्वचा और बालों के रोमछिद्रों में रक्त का प्रवाह बढ़ाता है। रुसी होने, बाल टूटने, बाल गिरने, गोलाई में बाल हटने और दोमुंहे बाल की समस्या में प्रभावी होता है। घटक: एसिडम हाइड्रोफ्लोरिकम ३०सी, एसिडम फॉस्फोरिकम ३०सी, एलॉय साकोट्रिना ६सी, ऐननथेरम म्यूरिकैटम ६सी, बेरिटा कार्बोनिका ३०सी, बोरैक्स ३०सी, कैंथेरिस ३०सी, चाइना ऑफिसिनालिस ३०सी, ग्रेफाइट्स ६सी, मेंसिनेला १२सी, नैट्रम म्यूरियटिकम ३०सी, प्लंबम मेटैलिकम ६सी, विजबाडन ३०सी। सेवन मात्रा: २ टेबलेट दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
लैक्सीलेक्स वाई टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: कड़ा कब्ज, पुराना कब्ज, अपच। घटक: कासकारा सेज. ३एक्स, ओपियम ३एक्स, फेनोलफ्थालेइन ३एक्स, सेन्ना ३एक्स, सल्फर ३एक्स. सेवन मात्रा: बच्चे: १ टेबलेट सोते समय। वयस्क: २ टेबलेट सोते समय या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
प्रोस्टेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: तीव्र प्रोस्टेटिटिस में राहत, प्रोस्टेटोरिया (प्रोस्टेट ग्रन्थि का बढ़ जाना), मूत्र रुकना, मूत्रीय पथ का संक्रमण, बी.एच.पी. (मामूली प्रोस्टेट हाइपरट्रोफी). घटक: केंथेरिस २००, चाइमाफिला अंबेलाता क्यू, कोनियम माक १एम, मिडोरहिनम २००, थुजा ओक ३०. सेवन मात्रा: १ टेबलेट दिन में ४ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
पायलेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: बवासीर, गुदा में बनने वाली दरारों की लिए, खून वाली और बिना खून वाली। घटक: एसिडम निट ३एक्स, एस्कुलस हिप ३एक्स, एलोए सोक ३एक्स, ब्लुमिय ओडोराटा २एक्स, कोलिंसोनिया केने ३एक्स, ग्राफिटिस ३एक्स, हमामेलिस वीर क्यू, काली कार्बोनिकम ३एक्स, लायकोपोडियम क्लैवेटम ३एक्स, मिलीफोलियम ३एक्स, नक्स वोमिका ६एक्स, पाओनिया ऑफिसिनालिस ३एक्स. सेवन मात्रा: २ टेबलेट दिन में ३ बार ४ दिन तक यदि खून रुक रहा है तो २ टेबलेट लें दिन में २ बार ३ महीने तक या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
वार्टिलेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: कठोर या नरम मस्से और पॉलिप, बिना दर्द के या दर्द वाले। घटक: एंटीमोनियम क्रुडुम २००, कैल्केरिया फ्लुओरिका ३एक्स, किस्टस कानाडेंसिस २००, मेजेरियम २००, थुजा ऑक्सिडेंटलिस ३एक्स. सेवन मात्रा: वयस्क: १ टेबलेट, रोजाना ३ बार। बच्चे: वयस्क से आधी खुराक कर सकते हैं या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
यूरीटेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: गठिया से संबंधित पित्ती या खाने की चीजों से, मधुमक्खी या ततैया के डंक से एलर्जी, चेहरा, पलकों, होंठ, मुंह और गले का एंजियोडर्मा। घटक: एंटीमोनियम क्रूडम ६, एंटिपाइरिनम ३०सी, एपिस मेल ६सी, बोविस्टा २००, क्लोरल हाइड्रेट ३०सी, फ्रागारिया वेस्का ३सी, हायग्रोफिला स्पिनोसा ३०सी, नैट्रम म्युरिएटिकम ६एक्स, थायरोडिनम ३०सी, तिलिया युरोपिया, अर्टिका यूरेंस क्यू। सेवन मात्रा: वयस्क: २ टेबलेट, रोजाना २ बार। बच्चे १ टेबलेट, रोजाना ३ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।
माइजेक्स टेबलेट प्रस्तुति: ७५ टेबलेट और २०० टेबलेट,
साईज: ५०० एमजी
औषधि का प्रयोग: लू लगना (सूर्यघात), चक्कर आना, पास की नजर कमजोर, तंत्रिकाशूल या वातशूल (न्यूरैल्जिया), खून की कमी से सिरदर्द, माइग्रेन वाला सिरदर्द, उच्च रक्तचाप से पैदा हुआ सिरदर्द, रजोनिवृत्ति-पश्चात सिंड्रोम। घटक: एसिडम कार्बोलिकम ६एक्स, एसिडम पिकरिकम ३०, बेलाडोना ३एक्स, सेपिया २००, सेलिसिया ३एक्स. सेवन मात्रा: वयस्क: १ टेबलेट दिन में ४ बार। बच्चे: १ टेबलेट दिन में २ बार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार।

व्हिजल होमियोपैथी लिक्वीड रेंज

अल्फाजिन माल्ट (परिवार स्वास्थ्य टॉनिक) प्रस्तुति: २५० ग्राम और ४५० ग्राम  लक्षण: यह टॉनिक शारीरिक व मानसिक शक्ति को बढ़ाता है। इसके सेवन से स्नायविक चक्कर आना, मानसिक व शारीरिक थकान चिड़चिड़ापन और आलस दूर होता है। यह भूख बढ़ाकर शारीरिक शक्ति एवं शारीरिक भार को अनुकूल ढंग से बढाती है। माताओं में दूध की कमी को दूर करता है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, एवेना साटिवा क्यू, जिनसेंग क्यू, हैड्रास्टिस २एक्स, एसिड फॉस २एक्स, चाइना २एक्स, फाइव फॉस ३एक्स, काली अर्स. ४एक्स, फेरूम असेटिकम ३एक्स, विथानिआ सोमनिफेरा २एक्स. खुराक: गर्भवती व दूध पिलाने वाली स्त्रियों के लिए: १ बडा चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से। वयस्क: १ या २ बडें चम्मच भरे हुए दिन में २ बार, बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में २ बार या चिकित्सक की सलाह से।
बेबी फॉस (शिशुओं के लिए पुनर्स्थापन टॉनिक) प्रस्तुति: ६० एमएल लक्षण: एक पौष्टिक जोश भरी दवा। यह बच्चे के शारीरिक भार, पुष्ट मजबूत हड्डियां व भूख को बढ़ाने में सहायक है। यह बच्चे के दाँत निकलने के समय, अतिसार व अन्य रोगों को हटाने में मदद करती है। यह बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। घटक: चाइना क्यू, कैल्केरिया फॉस ३एक्स, पोडोफिल्यूम क्यू, फेरम फॉस ३एक्स, चामोमिल्ला क्यू, काली फॉस ३एक्स. खुराक: ६ महीने से नीचे: आधा चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार।, ६ महीने से ऊपर: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ या ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
बेबी ब्लिस (बच्चे को खुश और आनंदित रखता है) प्रस्तुति: १५० एमएल लक्षण: बच्चो में दाँत निकलते समय, अपच, अस्थिवक्रता, सूखा रोग, जठरान्त्रशोथ, अतिसार, पेचिश, पेट का फूलना व उल्टी से मुक्ति देता है एवं भूख को बढाता है। घटक: कैल्केरिया फॉस ३एक्स, पोडोफिल्यूम क्यू,  चामोमिल्ला क्यू, ओसीमम क्यू, मेन्था पिप ३एक्स, कैल्केरिया फ्लोर ३एक्स, लेसिथिन ३एक्स, पेप्सिन ३एक्स. खुराक: ६ महीने से नीचे: आधा चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार। ६ महीने से ऊपर: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
किड केयर (डेंटिशन सिंड्रोम के लिए) प्रस्तुति: १२० एमएल लक्षण: यह बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता और ऊतकों के विकास को बढाता है। यह कमजोरी, अत्यधिक दुबला पतला होने और सूखा रोग में बेहद उपयोगी है। यह भार बढोतरी, पाचन शक्ति को बढाने में और परिपाचन में मदद करता है। घटक: पोडोफिल्यूम क्यू, चामोमिल्ला क्यू, चाइना क्यू,  मेन्था  पिप ३एक्स, कैल्केरिया फॉस ३एक्स, काली फॉस ३एक्स, फेरम फॉस ३एक्स. खुराक: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
विटोविटा फोर्ट सिरप (शारीरिक और मानसिक अच्छा होने के नाते) प्रस्तुति: १२०एमएल, १८०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: शारीरिक व मानसिक शक्ति को बढ़ाता है एवं उत्फुल्लता देता है। इसके सेवन से स्नायविक दुर्बलता, थकान, चिड़चिड़ापन दूर होता है एवं पाचन शक्ति बढ़ाता है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, एवेना साटिवा क्यू, चाइना क्यू, हैड्रास्टिस क्यू, योहिम्बीनम ३एक्स, मोस्चस ३एक्स, लेसिथिन ३एक्स, लुपुलिन ३एक्स. खुराक: १ से २ चाय के चम्मच भरे हुए दिन में २ से ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
सुपर अल्फाल्फा टॉनिक (सामान्य टॉनिक और एक क्षुधावर्धक) प्रस्तुति: १२०एमएल, २००एमएल, ४५० एमएल  लक्षण: यह पोषक तत्वो, विटामिन और खनिज तत्वो से भरपूर है जो शारीरिक और मानसिक क्षतियों की पूर्ति कर शरीर को स्वस्थ बनाती है। मानसिक उव्देग, चिन्ता, स्नायु दुर्बलता, साधारण कमजोरी, अनिद्रा, भूख की कमी, गर्भधारण न होने में और माताओ में दूध की कमी आदि लक्षणों में उपयोगी है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, चाइना ऑफ क्यू, हाइड्रासटिस क्यू, एवेना साटिवा क्यू, अश्वगन्धा क्यू, दामियाना क्यू, नक्स वोम. २एक्स, एसिड फॉस २एक्स, सिन्नामोनियम क्यू, कैलि अर्स ६एक्स, बेस सिरप। खुराक: बच्चे: १ बड़ा चम्मच भरा हुआ। वयस्क: १ चाय का चम्मच भरा हुआ, खाने के १ घंटा पहले, दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
व्हीजल मिक्सचर सिरप (घुटन और सभी प्रकार की खाँसी के लिए) प्रस्तुति: ६०एमएल, १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: छाती में भरी खड़खड़ाहट वाली बलगम को कम करने में सहायक है। खाँसी के प्रबल आवेग को कम करके कफ को निकालने वाली औषधि हे। निमोनिया, श्वासनली की टी.बी. और श्वास लेने की शक्ति बढ़ाने में उपयोगी है। गले की सूजन, श्वास प्रणाल शोथ और दम घोटने वाले कफ में भी बहुत उपयोगी है। घटक: ब्रोनिया क्यू, आईपेकाक क्यू, साम्बुकस क्यू, सेनेगा क्यू, जस्टिसिया क्यू, एस्पिडोसपर्मा क्यू, लोडियम ३एक्स, हाइड्रासटिस क्यू. खुराक: वयस्क: १ बडा चम्मच भरा हुआ ३ से ५ बार प्रतिदिन। बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ ३ से ५ बार प्रतिदिन या चिकित्सक की सलाह से।
लिवकॉल सिरप (पीलिया और यकृत रोगों के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: यह यकृत बढ़ने, अजीर्ण, मंद यकृत, ड्रग्स व एल्कोहोल से पीड़ित यकृत व भूख की कमी के कारण उत्पन्न प्रभावों को कम करने में उपयोगी है। यह जलोदर के कारण या बिना जलोदर के यकृत के कठोर होने को कम करने में उपयोगी है। घटक: कारडूस मरियानस क्यू, चेलिडोनियम माजस क्यू, चाइना क्यू, कालमेघ क्यू, हाईड्रासटिस कान. क्यू. पोडोफीलियम क्यू, इपेकाक क्यू कारिका पपाया क्यू, माईरिका क्यू, नक्स वोमिका. क्यू. खुराक: वयस्क: २ चाय के चम्मच भरे हुए दिन में २ बार। बच्चे: १ चाय का चम्मच दिन में २ बार या चिकित्सक की सलाह से।
फेमोकॉर्डियल सिरप (मासिक धर्म के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: यह थोडे समय और लगातार होने वाले गर्भधारण से, बॉझपन और गर्भधारण करने में कठिनाई से राहत दिलाने में उपयोगी है। यह श्वेत प्रदर, मासिक धर्म से पूर्व चिंता, दर्दयुक्त और अधिक मासिक स्त्राव को ठीक करता है और अनियमित मासिक धर्म को नियंत्रित करता है। यह भूख की कमी, अनिद्रा, मासिक धर्म संबंधी सिरदर्द और चक्कर से भी राहत दिलाता है। घटक: एलेट्रिस एफ. क्यू, अल्फाल्फा क्यू, एवेना साटिवा क्यू, अशोका क्यू, अर्जुना क्यू, हाइड्रास्टिस क्यू, मैगफॉस ३एक्स. खुराक: भरा हुआ १ चाय का चम्मच दिन में ३ से ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
सरसा सिरप (कंप्लीट रक्त शोधक) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: यह मुँहासे, एक्ने, चर्मरोग, खुजली, फुन्सी, पित्तिरोग, हल्की खरोंच से नकसीर होने में, पेशाब के पहले व बाद में जलन को रोकने में मदद करती है। यह मौसमीय संक्रमण के कारण चर्मरोगों में एक सुरक्षित रक्तशोधक है। घटक: सरसापारिल्ला क्यू, सल्फर २एक्स, फिटोलक्का क्यू, एचिनासिया क्यू, आजाद. इण्डिका क्यू, गेंटिआना एल.क्यू, टिनोस्पोरा क्यू, वेर्नोनिया क्यू, एस. चिराटा क्यू। खुराक: वयस्क: भरा हुआ १ चाय का चम्मच २ से ३ बार प्रतिदिन। बच्चे: भरा हुआ आधा चाय का चम्मच १ से २ बार प्रतिदिन या चिकित्सक की सलाह से।
हायमुसा सिरप (दर्द और जोड़ों की सूजन के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: सायटिका, गठिया रोग, सन्धिवात, कमरदर्द, वातशूल, पेशियों में दर्द, आमवात, जोड़ों में सूजन और लंगडेपन को कम करने के लिए लाभकारी है। घटक: अर्निका क्यू, ब्रायोनिया क्यू, रस टॉक्स क्यू, डुलकामारा क्यू, रुटा क्यू, रोडोडेंड्रॉन ३एक्स, बेन्जोइकम एसिडम ३एक्स, काली आयोडाइड. ३एक्स. खुराक: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
स्पासमोकॉल एलिक्सिर सिरप (विलोपन और अस्थमा खांसी के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: यह श्वास नली में ऐंठन, दमा, निमोनिया, काली खाँसी और खाँसी का दौरा (चाहे किसी कारण से) पडने में राहत दिलाती है। यह गाढे, रेशेदार, चिपचिपे बलगम को बाहर निकालने में भी मदद करती है। घटक: कॉकस काक्टि क्यू, ड्रोसेरा क्यू, बेलाडोना क्यू, इपिकाक ३एक्स, स्ट्रामोनियम ६एक्स, कोरालियम. ३एक्स. खुराक: १ चाय का चम्मच भरा हुआ ४ बार प्रतिदिन तीक्ष्ण दौरे में प्रत्येक आवेग के बाद या चिकित्सक की सलाह से।
कालमेघ एलिक्सिर सिरप (भूख और पीलिया के नुकसान के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: समस्त प्रकार के पीलिया रोग, भूख की कमी, जिगर व प्लीहा में सूजन एवं अपच इत्यादि लक्षणों में लाभदायक है। घटक: कालमेघ क्यू, चेलिडोनियम क्यू, कारिका पपाया ३एक्स, मैरिका. क्यू। खुराक: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में २ से ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
डायसेंटो सिरप (दस्त और पेचिश के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: अतिसार और पेचिश की सभी दशाओं में पतले दस्त, अतिसार, शौच की लगातार इच्छा, मलत्याग के लिये जोर लगाना, गुदा में सूजन, मल के साथ सफेद झागदार स्त्राव आना आदि में उपयोगी। घटक: कोलसिकम क्यू, एलोइज क्यू, मर्स. कोर. ६एक्स., नक्स वोम. क्यू, कोलोसाईनाथीस क्यू.  खुराक: बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ। वयस्क: २ चाय के चम्मच भरे हुये १ से ३ घंटे में रोग की दशा देखकर या चिकित्सक की सलाह से।
गैस्ट्रोलेक्स सिरप (गैस्ट्रिक एिलमेंट्स एंड अपैजन के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: गैस बनना, अनियमित खानपान के कारण कब्ज, भूख न लगना, जलन, जठर अम्लता, डकार आना, छाती में जलन, जठर शूल, पेट में तीव्र दर्द तथा जीभ पर सफेद परत का जमना इत्यादी लक्षणों में अत्यंत उपयोगी दवा है। घटक: चाइना क्यू, कारबो वेज ३एक्स, कोलोसिन्थिस क्यू, लाइकोपोडियम क्यू, कैल्क कार्ब ३एक्स, कैली म्यूर. ३एक्स, मैग. फॉस. ३एक्स. खुराक: बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ। वयस्क: २ चाय के चम्मच भरे हुये १ से ३ घंटे में रोग की दशा देखकर या चिकित्सक की सलाह से।
फेबरल सिरप (बुखार के सभी प्रकार के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: यह समस्त प्रकार के ज्वर जैसे मलेरिया, टायफाइड या इन्फ्लुएंजा के लिए गुणकारी औषधि है और बुखार के साथ निम्न लक्षणों जैसे की हड्डियों का दर्द, कंपकंपी, पसीना आना और सन्निपात इत्यादि लक्षणों में विशेष प्रभावी है। घटक: ओसिमम क्यू, चिनिनम अर्स. ३एक्स, यूपाटोरियम पी.क्यू, अर्सेनिकम आल्ब, ६एक्स, रस टॉक्स ६एक्स, ब्रोनिया आल्ब क्यू, फेरम फॉस. ३एक्स, बपतिसिया क्यू, अकोनितम नेप. ६एक्स. खुराक: बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ। वयस्क: २ चाय का चम्मच भरा हुआ रोग की दशा देखकर ३ से ४ घंटे में प्रत्येक बार या चिकित्सक की सलाह से।
अल्फा ड्रिंक (एक रीफ्रेशिंग और रिइव्यूएटिंग ड्रिंक) प्रस्तुति: ७००एमएल लक्षण: अल्फा ड्रिंक पोषक तत्वो सें भरपूर भूख खोलने वाली रुचिकर औषधीय होम्योपैथिक ड्रिंक्स है। अल्फा ड्रिंक में ब्राम्ही है जो मानसिक थकावट को दूर करती है। यह कुपोषण को भी दूर करती है साथ ही ऊतकों में होने वाले नुकसान को ठीक करता है। दूध पिलाने वाली माताओं में दूध की गुण और मात्रा को बढ़ाता है। ब्राम्ही के कार्बनिक क्षारीय पदार्थ हृदय के लिए एक उपयुक्त टॉनिक है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, नैट्रम म्युरिएटिकम ३एक्स, ब्राह्मी क्यू। उपयोग: इसे ठण्डे पानी, मिल्क शेक, लस्सी, आइस्क्रीम, आइसबॉल और पुडिंग में मिलकर स्वादानुसार या चिकित्सक की सलाह से उपयोग करें।
अस्थारेक्स सिरप (सभी अस्थमाओं के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: हर प्रकार की पुरानी खांसी व दमा में उपयोगी। घटक: ब्लाट्टा ओरिएंटलिस क्यू, जस्टिसिया एड क्यू, सेनेगा क्यू, लोबेलिया इनफ्लान्टा क्यू, इपिकाकुआना क्यू, ग्रिंडेलिया रोबस्टा क्यू, मैग फॉस २एक्स. खुराक: २ चाय के चम्मच भरे हुए दिन में ३ से ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
हैमोरेक्स सिरप (एनीमिया के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: खून की कमी को दूर करता है तथा गर्भावस्था से समय व सामान्यतः खून में लोह तत्व की आवश्यकता को पूरी करता है व भूख बढ़ाता है। घटक: फेरम लेक्टिकम १एक्स, अमोनियम असेटिकम १एक्स, नैट्रम फॉस्फोरिकम १एक्स, काली फॉस्फोरिकम १एक्स, एसिडम सिट्रिकम ३एक्स, एसिडम फॉस्फोरिकम १एक्स. खुराक: बच्चे: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ बार। वयस्क: १ बड़ा चम्मच भरा हुआ दिन में ३ से ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
ल्यूकोराइन सिरप (अत्यधिक ल्यूकोरोहाए के लिए) प्रस्तुति: १२०एमएल, ४५०एमएल  लक्षण: हर प्रकार के प्रदर के कारण उत्पन्न कठिनाइयों को दूर करने में सहायक है। घटक: एल्यूमिना ६, सेपिया ६, मैग. म्यूर. ६, कोनियम मैक. ६, कैल्क. कार्ब ६. खुराक: १ चाय का चम्मच भरा हुआ दिन में ३ से ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
रेनोकॉल ड्रॉप्स (विशेष रूप से रेनल कोलिक के लिए) प्रस्तुति: १५एमएल, ३०एमएल लक्षण: पित्ताशय एवं गुर्दे का दर्द, वृक्कशोथ, शुक्राणु नली एवं वृषशाकी स्नायु पीड़ा, श्लेष्मिक कला में छाले के कारण रक्त स्त्राव के साथ या रक्तहीन मूत्राशय प्रदाह, कमर दर्द और शल्य क्रिया के बाद के कमर दर्द आदि में उपयोगी। घटक: बर्बेरिस वुल्ग क्यू, एकोनिटम नाप क्यू, लूकोपोडियम क्यू। खुराक: बच्चे: २ से ५ बूंदे। वयस्क: ५ से ८ बूंदे गुनगुने पानी में हर १ से ३ घंटे में दर्द रुकने तक या चिकित्सक की सलाह से।
हेप्टोकॉल ड्रॉप्स (हेपेटाइटिस और जंडीस के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल  लक्षण: मंद यकृत, ड्रग्स व एल्कोहल से यकृत का बढ़ना, यकृतशोथ, पित्ताशय की पथरी एवं पित्ताशय के दर्द में अत्यंत उपयोगी है। घटक: चेलिडोनियम क्यू, मैरिका क्यू। खुराक: बच्चे: ३ से ५ बूंदे दिन में २ से ४ बार।  वयस्क: ५ से १० बूंदे दिन में २ से ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
वॉर्मस्क्विल ड्रॉप्स (प्रभावी और सुरक्षित डावर्मिंग के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल  लक्षण: विभिन्न प्रकार के कृमि जैसे हुकवर्म, राउण्ड वर्म, पिनवर्म, टेपवर्म या यकृत के पर्ण कृमि को बाहर निकालने में उपयोगी है। बच्चों के कृमिजनित आक्षेपिक दौरों के लिए, अत्यधिक भूख, आँखों के नीचे काले घेरे, गुदा में खुजली, कृमि के कारण चिडचिडापन तथा अत्यधिक कृशता में लाभदायक है। घटक: संटोनीनम ३एक्स, नैप्थालीन ३एक्स, चेनोपोडियम क्यू, टुक्रियम क्यू, सीना क्यू, थिमोलूम ३एक्स. खुराक: बच्चे: ५ से ६ बूंद दिन में ३ बार वयस्क: १० से १५ बूंद दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
मेंसोरिन ड्रॉप्स (अनियमित माहवारी के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल  लक्षण: मासिकधर्म का कम होना व देरी से होने को नियंत्रित करती है। लड़कियों में कमर दर्द व मासिकधर्म के रुक जाने को दूर करता है। मासिक धर्म को नियमित करती है और कष्टप्रद मासिक धर्म को दूर करने में अत्यंत उपयोगी है। घटक: गोस्सिपियम क्यू, सेनेकोई क्यू, पुल्सटिल्ला क्यू, पिनस. एल. क्यू, कोल्लिन्सोनिया क्यू। खुराक: १०-१५ बूंद दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
रिलेक्सो ड्रॉप्स (मानसिक विश्राम के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल  लक्षण: बार-बार नींद आना, निद्राहीनता, खर्याटे भरना, जेटलैग सिण्ड्रोम और काम के बदलाव से अनियमित निद्रा में उपयोगी है। ऐसे व्यक्ति जो अत्यधिक चिंता, उद्विग्नता, दुःस्वप्न तथा नींद में चलने से पीड़ित हों, में लाभदायक है। घटक: पैसीफ्लोरा क्यू, अल्फाल्फा क्यू, स्ट्रामोनियम क्यू, हाइओसाइयामस क्यू, नक्स वोम. ३एक्स, जिंकम मेट ३एक्स, क्लेमेटिस क्यू. खुराक: बच्चे: ५ से ६ बूंद दिन में ३ बार। वयस्क: १० से १५ बूंद दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
कार्डियंट गोल्ड ड्रॉप्स (पूरा कार्डिएक केयर के लिए) प्रस्तुति: ३० एमएल  लक्षण: स्वस्थ हृदय एवं हृदय प्रक्रिया में, अत्यंत उपयोगी टॉनिक है। घटक: कैक्टस जी क्यू, स्त्रोफन्थुस क्यू, ऐथूसा ३एक्स, ऑरम-मुर ४एक्स, क्राटाइगस क्यू, काम्फोरा २एक्स, वैलेरियना क्यू, कॉनवल्लरिया क्यू। खुराक: २०-३० बूंदे दिन में १/४ कप पानी में ३ बार। अचानक आकस्मिक लक्षण होने पर ४० बूंदे या चिकित्सक की सलाह से।
डी-टॉक्सिन ड्रॉप्स (नारकोटिक्स के प्रभाव के लिए) प्रस्तुति: ३० एमएल  लक्षण: यह आदर्श संयोग है जो शरीर की विषाक्तता को, तम्बाकू और शराब के दुष्परिणामों को कम करने में सहायक होता है और लत को धीरे-धीरे समाप्त करता है। यह शराबी और सिगरेट के लती लोगो में हाथो में कंपन होना, नींद न आना, व्यग्रता और चिंता को भी कम करने में सहायक है। घटक: कालाडियम सेग. क्यू, क्वेरकस ग्लान स्प्रिरीटूस. क्यू, एवेना साटिवा. क्यू, डाफ्ने इण्डिका क्यू. खुराक: १५-२० बूंद आधे बड़े चम्मच पानी में मिलाकर दिन में ३ से ५ बार। आकस्मिक अवस्था में ४ बार या चिकित्सक की सलाह से।
मेमोरिन ड्रॉप्स (मेमोरी में सुधार के लिए) ३० एमएल  लक्षण: यह तंत्रिका तंत्र और न्यूरोट्रॉन्समीटर में सहायक हो कर याददाश्त सुरक्षित करता और एकाग्रता को बढ़ाता है। पढ़ाई में पाठ याद न रखने वाले बच्चों की मदद करता है और अधीर लोगो के आत्मविश्वास को बढ़ाता है। घटक: अनाकार्डियम ३एक्स, बार्यटा कार्ब. ३एक्स, लूकोपोडियम ३एक्स, काली फॉस. ३एक्स, लक. कानीनम ३एक्स, आर्जेंटम निट. ३एक्स. खुराक: १ बड़े चम्मच पानी में १५-२० बूंद मिलाकर दिन ३-५ बार या चिकित्सक की सलाह से।
डायबोनोल ड्रॉप्स (मधुमेह को प्रबंधित और नियंत्रित करने के लिए) प्रस्तुति: ३०एमएल, ६०एमएल  लक्षण: वंशानुगत रोग के कारण बीटा कोशिकाओं की टाइप १, टाइप २ विकृत प्रक्रिया से पैंक्रियाज के अपर्याप्त कार्य करने पर, डायबिटीज के कारण अत्यधिक पसीना आने पर, ऐसे रोगियों के लिए जिन्होंने लम्बे समय तक स्टेरॉयड्स का सेवन किया हो में अत्यंत उपयोगी है। इन्सुलिन निर्भर डायबिटीज में और शुगर स्तर को नियंत्रित करने में सहायक है। घटक: सीजीजियम जांब. ३एक्स, इन्सुलिन ३एक्स, फेरम आर्सेनिक ६एक्स, एसिड फॉस. ३एक्स, यूरेनियम निट. ६एक्स, ग्लिसरीनम ३एक्स. खुराक: आधा कप पानी में १०-१५ बूंदे खाने से आधा घंटा पहले, दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
रीनल फोर्टे ड्रॉप्स (गुर्दे की समस्याओं के लिए) प्रस्तुति: ३० एमएल लक्षण: यह किडनी के ठीक से कार्य न करने पर रक्त यूरिया व सीरम क्रिटेनिन स्तर को सीमा में रखने में शरीर की कार्यप्रणाली में मदद करती है। उच्चरक्तचाप, निम्नरक्तचाप, कमजोरी, व थकान को नियंत्रित करने में शरीर की जैविक कार्यप्रणाली में मदद करता है। घटक: यूरिया पी ३एक्स, इल सेरम ६एक्स, सोलिडागो वी ३एक्स, इचथ्योलुम ३एक्स, पिलोकार्पस एम ३एक्स. खुराक: १५-२० बूंद दिन में ३-५ बार या प्रशिक्षित चिकित्सक की देखरेख में।
ग्रोटॉल ड्रॉप्स (स्टंट ग्रोथ के लिए) प्रस्तुति: ३० एमएल लक्षण: जिन बच्चों के माता-पिता में से कोई एक ठिंगना हो। जिन बच्चों की यौवनावस्था में विलंब हो, जो कुपोषण के शिकार हों तथा जिन बच्चों की लम्बाई भावनात्मक कारणों से न बढ़ रही हो जिस कारण वे नाटे और उनके सम्पूर्ण विकास में देर हो गयी हो, उसके लिये उपयोगी है। घटक: बार्यटा कार्ब. ३एक्स, सिलिसिया. ३एक्स, थूजा. ३एक्स, कॅल्शियम फॉस. ३एक्स, फेरम फॉस ३एक्स. खुराक: १ बड़े चम्मच पानी में १०-१५ बूंद मिलाकर दिन में ३-५ बार या प्रशिक्षित चिकित्सक की देखरेख में।
स्टीमुलंट-एच. ड्रॉप्स (नपुंसकता के लिए) प्रस्तुति: ३० एमएल लक्षण: उत्थान में कमी, शीघ्रपतन, डायबिटीज के कारण रोगी में नपुंसकता उच्च रक्तचाप, थॉयराइड ग्रन्थि की अतिसक्रियता से पीडित, पेडू की चोट या मेरुदण्ड की चोट से उत्पन्न नपुंसकता और प्रॉस्टेट ग्रन्थि के आपरेशन के बाद उपयोगी। घटक: एसिड फॉस. क्यू, अग्नस कास्टस क्यू, लूकोपोडियम ३एक्स, जिनसेंग क्यू, दमियाना क्यू, योहिम्बीनम ३एक्स, लुपुलिन ३एक्स, कोनियम ६एक्स, स्टाफीसागरिया ३एक्स, ओनोस्मोडियम ३एक्स, टिटेनियम ३एक्स. खुराक: थोडे से पानी में १० बूंद दिन में ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
आय ब्राइट ड्रॉप्स (नेत्रश्लेष्मलाशोथ और नेत्र देखभाल के लिए) प्रस्तुति: १० एमएल लक्षण: आँखो में तनाव, आँखो से पानी बहना, जलन, खुजली, वातावरणीय प्रदुषण, द्रुष्टि की तेजी को बनाए रखना, पुराने और तीक्ष्ण नेत्रा श्लेष्मा शोथ रोग, आँखो को स्वस्थ और दीप्तमान रखने में उपयोगी। घटक: एउफ्रासिया क्यू, सीन. मारिटीमा क्यू,अर्गेंटम नीट. ३एक्स, एसिड बोरिकम २एक्स, जन सुल्फ. २एक्स. उपयोग: २ बूंद प्रत्येक आँख में दिन में २ से ३ बार या चिकित्सक की सलाह से।
सिनेरारीया मारिटीमा ड्रॉप्स (मोतियाबिंद और कॉर्नियल अस्पष्टता को जांचना) प्रस्तुति: १० एमएल लक्षण: द्रुष्टि में धुंधलापन, द्रुष्टि में अपारदर्शिता, पुतली में अपारदर्शिता।  घटक: सीन. मारिटीमा क्यू, ग्लिसरीनम, फिनाइल मरक्यूरिक नाइट्रेट आय.पी., इन एक्वा डिस्टिल्ड। उपयोग: दोनों आँखों में १ या २ बूंद दिन में ३ बार कई महीनो तक डालें अथवा जैसा चिकित्सक निर्देशित करें।
ओटोरिन ड्रॉप्स (कान का दर्द और आंतरिक कान की सूखने के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल लक्षण: तरुण एवं जीर्ण कर्ण प्रदाह में, छोटे बच्चो में जब वे सर्दी या टॉन्सिलाइटिस के कारण कर्णनली के दर्द से पीड़ित हो तथा अत्यधिक कर्णमल जमा होने के कारण कण को पीड़ा में उपयोगी है। घटक: प्लांटागो क्यू, चामोमिल्लीया क्यू, कैलेंडुला क्यू, बेलाडोना क्यू, मुल्लेइन क्यू। उपयोग ३-५ बूंद दिन में ३ बार बूंद-बूंद कर डाले  या चिकित्सक की परामर्श के अनुसार।
नोसोलिन ड्रॉप्स (नाक सूखी और बाधा के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल लक्षण: यह औषधि निम्मलिखित दशाओं में सहायक होती है: नाक से पानी बहना (एलर्जिक वैसोमोटर राहइनाइटिस), नेजल पॉलिपस (मॉस वृद्धि), वायुविवर शोथ (पैरानेजल साइनुसाइटिस), घर की धूल एवं धूलकणों से एलर्जी, पैट्रो-कैमिकल की वाष्प से एलर्जी। घटक: ग्राफिट्स ३एक्स, हायड्रास्टिस क्यू, संगुइनारिया क्यू, काली बीच क्यू। उपयोग: ३-५ बूंद दिन में ३ बार बूंद-बूंद कर डाले या चिकित्सक की परामर्श के अनुसार।
सुपर अल्फाल्फा शुगरफ्री प्रस्तुति: १२० एमएल, २०० एमएल, ४५० एमएल लक्षण: यह पोषक तत्वो, विटामिन और खनिज तत्वो से भरपूर है जो शारीरिक और मानसिक क्षतियों की पूर्ति कर शरीर को स्वस्थ बनाती है। मानसिक उव्देग, चिन्ता, स्नायु दुर्बलता, साधारण कमजोरी, अनिद्रा, भूख की कमी, गर्भधारण न होने में और माताओ में दूध की कमी आदि लक्षणों में उपयोगी है। घटक: अल्फाल्फा क्यू, चाइना ऑफ क्यू, हायड्रास्टिस क्यू, एवेना साटिवा क्यू, अश्वगन्धा क्यू, दामियाना क्यू, नक्स वोम. २एक्स, एसिड फॉस २एक्स, सिन्नामोनम क्यू, काली अर्स ६एक्स, बेस सोर्बिटोल। खुराक: वयस्क: १ या २ चाय का चम्मच भरे हुए, खाने के पहले, दिन में ३ बार चिकित्सक की सलाह से।
गैस्ट्रोलेक्स ड्रॉप्स (गैस्ट्रिक एिलमेंट्स एंड अपैजन के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल लक्षण: गैस बनना, अनियमित खानपान के कारण कब्ज, भूख न लगना, जलन, जठर अम्लता, डकार आना, छाती में जलन, जठर शूल, पेट में तीव्र दर्द तथा जीभ पर सफेद परत का जमना इत्यादी लक्षणों में अत्यंत उपयोगी दवा है। घटक: चाइना क्यू, कार्बो वेज ३एक्स, कोलोसिन्थिस क्यू, लाइकोपोडियम क्यू, कैल्क. कार्ब. ३एक्स, काली म्यूर. ३एक्स, मैग फॉस. ३एक्स. खुराक: ५ से १० बूंद दिन में ३ से ४ बार या चिकित्सक द्वारा निर्धारित अनुसार।
कालमेघ ड्रॉप्स (भूख और पीलिया के नुकसान के लिए) प्रस्तुति: १५ एमएल, ३० एमएल लक्षण: समस्त प्रकार के पीलिया रोग, भूख की कमी, जिगर व प्लीहा में सूजन एवं अपच इत्यादि लक्षणों में लाभदायक है। घटक: कालमेघ क्यू, चेलिडोनियम क्यू, कारिका पपाया ३एक्स, मैरिका. क्यू। खुराक: बच्चे: ५ बूंदे, वयस्क: १० बूंदे दैनिक जलप्रकाश की एक घूंट के साथ या चिकित्सक द्वारा निर्धारित अनुसार।

 

4 विचार “Wheezal Homeopathy medicines in Hindi, व्हिजल होमियोपैथी दवाई सूची&rdquo पर;

    1. कानों में बजना (टिन्निटस)कहा जाता है और पर्यावरण से नहीं बल्कि कान की अंदरूनी हिस्से से आता है । यह एक लक्षण है और कोई विशिष्ट बीमारी नहीं है| टिनिटस के सबसे सामान्य कारणों में अत्यधिक आवृत्ति सुनवाई से नुकसान या आम दवाओं के ऊंचा स्तर या अत्यधिक मात्रा में आंतरिक कान के लिए विषाक्त हो सकता है. श्वाबे जर्मन मुलीन तेल टिन्निटस या कान में बजने की पीड़ा के लिए अच्छा है। एसबीएल मुलेलीन को भी देखा जा सकता है

      पसंद करें

  1. आप से निवेदन है कि आप हमारी संस्था द्वारा संचालित जन जागरण चेरीटेबिल हाँस्पिटल हेतु आपने प्रोडेक्ट की जानकारी भेजिये।
    जन जागरण चेरीटेबिल हाँस्पिल बजाज शो रूम के पास नर्मदा बाई स्कूल बण्डा रोड मकरोनिया सागर म.प्र.

    पसंद करें

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s